नेशनल

तीन साल की बच्ची का अपहरण कर DU की छात्रा ने माँगा 5 करोड़ की फिरौती

दिल्ली विश्वविद्यालय की छात्रा ने अपने छोटे भाई के साथ मिलकर मकान मालिक के तीन वर्षीय बेटे का अपहरण कर लिया। छात्रा ने बच्चे को लौटाने के लिए में पांच करोड़ रुपये की फिरौती मांगी। बाद में सौदा दो करोड़ में तय हो गया। दक्षिण-पश्चिमी जिला पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज और मोबाइल सर्विलांस की मदद से बच्चे को सकुशल मुक्त करा छात्रा को 24 घंटे में ही गिरफ्तार कर लिया और उसके छोटे भाई को भी पकड़ लिया गया।
दक्षिण-पश्चिमी जिला डीसीपी देवेंद्र आर्य ने बताया कि वसंत कुंज में रहने वाले फाइनेंसर अनुज के तीन वर्षीय बेटे शुभम (बदला नाम) के गायब होने की सूचना 11 नवंबर को मिली थी। जांच में पता चला कि अनुज के पास फिरौती के लिए व्हाट्सऐप पर मैसेज आया है और पांच करोड़ रुपये की फिरौती मांगी गई है। एसीपी रमेश कक्कड़ की देखरेख में वसंत कुंज (साउथ) संजीव कुमार की टीम बनाई गई।
जांच में पता लगा कि जिस मोबाइल नंबर से व्हाट्सऐप मैसेज भेजा गया है, उस पर हॉटस्पॉट का इस्तेमाल किया गया है। इसे सुनीता (बदला नाम) इस्तेमाल कर रही है। पुलिस ने अनुज के घर में छोटे भाई व मां के साथ किराए पर रहने वाली सुनीता से पूछताछ की तो उसने सच उगल दिया और बच्चे के अपहरण की बात स्वीकार कर ली। उसकी निशानदेही पर घिटोरनी में एक कमरे से अपहृत तीन वर्षीय बच्चे को मुक्त करा लिया गया। पुलिस ने सुनीता के छोटे भाई को भी पकड़ लिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button