छत्तीसगढ़

रायपुर में बनेगा एक और किर्तिमान, लहरायेगा विश्व का सबसे लंबा 15 किमी का ‘तिरंगा’

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर एक और विश्व कीर्तिमान बनाने की ओर अग्रसर है ”
छत्तीसगढ़ का हर वर्ग ,हर समाज,जनता और जनप्रतिनिधियों तथा प्रत्येक रायपुरियन जुड़ेगा इस अनूठे कार्यक्रम से।
आज के दौर में जबकि लगभग सभी राजनीतिक पार्टियां वोटों की शतरंज के चलते समाज को जाति, धर्म, बोली, भाषा, क्षेत्रीयता के विभिन्न खांचों में लगातार बांट रही है, ऐसे संक्रमण काल में, में नानाविध विविधताओं के इस विशाल देश की अखंडता को अक्षुण्ण बनाए रखने तथा समाज के सभी वर्ग में देशभक्ति की नव भावना के संचार कर सभी को एक सूत्र में बांधने के लिए , हम सबका प्यारा तिरंगा ही सबसे उपयुक्त माध्यम हो सकता है।
इसे देखते हुए, देश मे सामाजिक सौहाद्र,एकता स्थापित करने एवं हमारे शहीदो के सम्मान के लिये,और विश्वपटल मे तिरंगे के कीर्तिमान को स्थापित करने के उददेश्य से वसुधैव कुटुंबकम फाउंडेशन के साथ छत्तीसगढ की सभी सामाजिक संस्थायें एवं शहीद परिवारों के मिलकर अगस्त माह मे “विश्व का सबसे लंबा 15 किमी का तिरंगा लहराने जा रहे है,उसी कार्यक्रम के क्रियान्वयन के संबंध में प्राथमिक बैठक वृंदावन सभागार में रखी गयी थी । जिसमे प्रदेश की सभी सामाजिक, साहित्यिक संस्थाओ, और सभी धर्म के लोगो ने बढ़चढ़कर हिस्सा लिया,और तिरंगे के इस अनूठे कार्यक्रम को सफल करने की शपथ भी ली।
तिरंगा हमारी आन बान शान का प्रतीक है और इसके लिए कितने ही जांबाजों ने अपनी जान की कुर्बानी दी है, वहीं जज्बा फिरसे हर भारतीय के ह्रदय में पैदा करने की जरूरत आन पड़ी है।
इस कार्यक्रम मे रायपुर की विभिन्न समाजसेवी, तथा साहित्यिक, सांस्कृतिक संस्थाओं के प्रमुख , तथा पदाधिकारियों , एवं प्रबुद्ध नागरिकों के साथ ही,,, मुख्य रूप से उपस्थित रहे ,भरत बजाज,लक्ष्मीनारायण लाहोटी,अमरजीत जुनेजा,सरोज सिंह, रोहित सिंह, एवं बस्तर से पधारे डॉ राजाराम त्रिपाठी उपस्थित थे ।

Tags
Show More

Related Articles

Close