नेशनल

स्टेशन मास्टर की लापरवाही से हुआ रायबरेली ट्रैन हादसा , निलंबित

लखनऊ । अाज सुबह रायबरेली के हरचंदपुर रेलवे स्टेशन के पास Train No: 14003 Up (MaLDa Town -NDLS Exp) फरक्का एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त हो गई। डीअारएम ने बताया है कि हादसे में तीन बच्चों समेत सात लोगों की मौत हो गई। हादसे में 40 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं। सभी का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है। सुबह लगभग 6.11 बजे हरचंदपुर में लूप लाइन पर न्यू फरक्का एक्सप्रेस की नौ बोगियां डीरेल हो गई। इनमें छह बोगियां पूरी तरह से रेलवे ट्रैक से बाहर हो गई और महिला व दिव्यांग बाेगी पलट गई। इसी बोगी के लोग सबसे ज्यादा हताहत हुए। पश्चिम बंगाल के मालदा टाउन से चलकर दिल्ली जा रही 14003 Up MaLDa Town -NDLS Exp न्यू फरक्का एक्सप्रेस सुबह करीब छह बजे हादसे का शिकार हो गई। बताया जा रहा है कि हरचंदपुर स्टेशन के असिस्टेंट स्टेशन मास्टर ने ट्रेन को पास होने के लिए ग्रीन सिग्नल तो दे दिया, लेकिन प्वाइंट बदलकर पटरियां नहीं जोड़ी। जिससे ट्रेन हादसे का शिकार हो गई। रेलवे अधिकारी ने हरचंदपुर के असिस्टेंट स्टेशन मास्टर आशीष कुमार को प्रथम दृष्टया में दोषी पाते हुए निलंबित कर दिया है। हादसे में बिहार के मुंगेर जिले के लक्ष्मीपुर निवासी रसिक लाल मांझी के दो बच्चों सौगंध (8) और दिनेश (5) की मौत हो गई। रसिक, उसकी पत्नी अनीता और दो साल का मासूम राहुल हादसे में घायल हो गए। ये सभी माल बोगी में बैठे थे। बिहार के खड़गपुर, मुंगेर निवासी मोहन की एक साल की बेटी व मोना, पत्नी सुनीता की भी हादसे में जान चली गई। मोहन का मासूम बेटा रवि (6) अपनी एक साल की बहन सोना का इलाज जिला अस्पताल में करा रहा है। कुल सात लाेगों के मरने की सूचना है।
जिला अस्पताल में छह डेड बाडी अभी तक आयीं हैं। 36 से ज्यादा घायलों को इलाज के लिए जिला अस्पताल लाया गया है। पूरा स्वास्थ्य महकमा घायलों के इलाज में लगा है। प्राइवेट हास्पिटल के सर्जन व चिकित्सक भी जिला अस्पताल में डटे हुए हैं। हादसा कैसे हुअा अभी यह पता नहीं चला है। एडीजी लॉ एंड ऑर्डर आनंद कुमार ने बताया कि दुर्घटनास्थल पर नजर रखने के लिए ड्रोन व लांग रेंज कैमरा का इस्तेमाल किया जा रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button