छत्तीसगढ़

Bhilai Steel Plant ब्लास्ट : मैनेजमेंट की घोर लापरवाही से हुआ हादसा !

प्रबंधन ने मेंटेनेंस का काम करने के लिए नहीं किया प्रोटोकाल का पालन

भिलाई : कल भिलाई स्टील प्लांट में हुए  हादसे में प्रबंधन की घोर लापरवाही को कारण माना जा रहा है, औद्योगिक स्वास्थ एवं सुरक्षा विभाग के डिप्टी डायरेक्टर केके द्विवेदी की प्रारंभिक  रिपोर्ट से यह खुलासा हुआ है, कोक ओवन एरिया में हादसे के लिए बीएसपी प्रबंधन पूरी तरह जिम्मेदार है। जिसने मेंटनेंस का काम शुरू करने के पहले और कार्य के दौरान एक के बाद एक कई ऐसी लापरवाहियां करते चले गए जिसने 12 कर्मियों को मौत के मुंह में ढकेल दिया। वहीं 14 कर्मी जीवन-मृत्यु के बीच संघर्ष करने को बाध्य हो गए।
प्रारंभिक रिपोर्ट के अनुसार प्रबंधन ने संवेदनशील स्थान में मेंटेनेंस का काम करने के लिए प्रोटोकाल का पालन नहीं किया। वही हादसे की बड़ी वजह बनी। बताया गया कि कोक ओवन बैटरी 11 के पास 1800 एमएम डाया की गैस पाइप के ज्वाइंट से फ्लेंज ज्वाइंट को निकालते समय हादसा हुआ। दो पाइप के जोड़ पर लगे फ्लेंज ज्वाइंट को निकालने से पहले गैस नहीं निकाली गई। ज्वाइंट पर एमएम मोटाई की एमएस प्लेट की प्लेट लगी थी। इसी प्लेट को निकालते समय हाई प्रेशर से गैस निकलने से यह हादसा हुआ।
डिप्टी डायरेक्टर केके द्विवेदी ने बताया कि, मेंटेनेंस से पहले रिस्क एनॉलिसिस रिपोर्ट बनती है। उसे दरकिनार किया गया। जल्दबाजी में काम शुरू कर दिया। अगर प्रोटोकॉल का पालन किया होता तो ये हालात नहीं होते। प्रबंधन की घोर लापरवाही के कारण यह दुर्घटना हुई। गैस लीकेज के कारण हादसा नहीं हुआ बल्कि सुरक्षा उपायों की अनदेखी करने के कारण हादसा हुआ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button