छत्तीसगढ़

खंडित आरक्षण होगा समाप्त – जोगी

रायपुर। जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के सुप्रीमो अजीत जोगी ने कहा हमें छत्तीसगढ़ की जनता पर भरोसा पूरा भरोसा है कि हमारी सरकार अवश्य बनवाएगी। बहन सुश्री मायावती केन्द्र में प्रधानमंत्री बनकर सत्ता में बैठेंगी। छत्तीसगढ़ की जनता अब समझने लगी है कि समाजिक सोच रखने वाले कौन नेता है। श्री जोगी ने कहा है कि छत्तीसगढ़ में आरक्षण के हकदार समाज आरक्षण से वंचित नही रहेगा और हम खंडित आरक्षण को समाप्त करेगें। जोगी ने यह बात पार्टी कार्यालय पिछड़ा वर्ग के कई नेताओं के जनता कांग्रेस में प्रवेश के दौरान कही।
जोगी ने कहा कि भाजपा और कांग्रेस घोर आरक्षण विरोधी हैं । कई समाज ऐसे है जिनका खंडित आरक्षण के कारण उचित विकास नही हो पाया है। जिसमें धोबी समाज भी शामिल है। इसी प्रकार ढीमर, केवट, मांझी, पनिका, गढ़रिया, पाल, धनगर, मानिकपुरी, यादव, देवांगन, बुनकर, नमोशुद्र ऐसी अनेक जातियां है जो खंडित आरक्षण को समाप्त करने के लिए केन्द्र व राज्य सरकार की दरवाजा खटखटा चुकी हैं ।
जोगी ने जोर देकर कहा हमने अपने अल्प कार्यकाल में केन्द्र सरकार को प्रस्ताव भेजा था। परन्तु उस समय केन्द्र में बैठी एनडीए की सरकार ने नहीं सुनी। 18 बिन्दु की जानकारी मांगकर इस महत्वपूर्ण प्रस्ताव को खटाई में डाल दिया। बैठक की अध्यक्षता करते हुए अति पिछड़ा वर्ग विभाग के प्रभारी सूरज निर्मलकर ने पार्टी प्रवेश करने वालो को बधाई देते हुये कहा कि भाजपा-कांग्रेस इन दोनों पार्टी के विकल्प की तलाश उपेक्षित समाज के लोगो को थी जो जोगी जी पूरा कर रहे हैं। पार्टी प्रवेश करने वालो मे प्रमुख रूप से जनपद सदस्य भानूप्रिय बाघ, रोहित वर्मा, संतोष कन्नौजे, एस.राम देवागन, मोहित कुमार तरार, शकुन्तला हिरवानी, पुनित राम निषाद, शीतल दास मानिकपुरी, कुंजराम पाल, संतोष धनगर, आशीष ओझा, बुलउवा राम निर्मलकर, मेहतरू राम आदि थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button