छत्तीसगढ़राजनीती

लोकसभा चुनाव के लिए छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की बागडोर सीएम बघेल के हाथो

रायपुर। विधानसभा चुनाव में आए नतीजे को देखकर कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर पीसीसी अध्यक्ष व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को बड़ी जिम्मेदारी दी है। उन्हें छत्तीसगढ़ में लोकसभा चुनाव की कमान सौंपी गई है। हाईकमान ने बघेल को प्रदेश चुनाव और अभियान समिति का अध्यक्ष बनाया है।
गुस्र्वार को राहुल ने चुनाव समिति, चुनाव अभियान समिति के अलावा चुनाव समन्वय समिति, मीडिया समन्वय समिति और चुनाव प्रचार समिति की घोषणा की है। एकमात्र महिला मंत्री अनिला भेड़िया को छोड़कर बाकी सभी मंत्रियों को किसी न किसी समिति में रखा गया है। वरिष्ठ विधायकों को भी जिम्मेदारी दी गई है।

चुनाव के लिए पार्टी के तरफ से जितने भी अभियान या कार्यक्रम कराए जाते हैं, वह चुनाव अभियान समिति तय करती है। इस कारण चुनाव और अभियान समिति ही ज्यादा महत्वूपर्ण होती है। हालांकि, लोकसभा चुनाव की रणनीति और अभियान हाईकमान तय करेगा, लेकिन उसके क्रियान्वयन की पूरी जिम्मेदारी प्रदेश समितियों की होगी। प्रदेश चुनाव अभियान समिति में पांच और मंत्री रखे गए हैं।

इसमें टीएस सिंहदेव, रविंद्र चौबे, मोहम्मद अकबर, डॉ. शिवकुमार डहरिया श्ाामिल हैं। उमेश पटेल युवा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष होने के नाते चुनाव समिति में रखे गए हैं, क्योंकि पार्टी के सभी फ्रंटल ऑर्गेनाइजेशन के अध्यक्षों को रखा गया है। वरिष्ठ विधायक व मंत्री ताम्रध्वज साहू, डॉ. प्रेमसाय सिंह को इस समिति में जगह नहीं मिली है।

मुख्यमंत्री बघेल, मंत्री सिंहदेव, मोहम्मद अकबर और डॉ. डहरिया को तीन-तीन समितियों में रखा गया है। मंत्री रविंद्र चौबे, ताम्रध्वज साहू, जयसिंह अग्रवाल दो-दो समितियों में हैं, जबकि गुस्र् स्र्द्र कुमार, उमेश पटेल, कवासी लखमा और डॉ. प्रेमसाय सिंह को केवल एक-एक समिति में ही जगह मिली है।

प्रदेश चुनाव अभियान समिति में 35 लागों को रखा गया है, जिसमें से 10 मंत्री हैं। अध्यक्ष भूपेश बघेल के अलावा इस समिति में मंत्री टीएस सिंहदेव, ताम्रध्वज साहू, कवासी लखमा, रविंद्र चौबे, मोहम्मद अकबर, गुरु स्र्द्र कुमार, डॉ. शिवकुमार डहरिया, डॉ. प्रेमसाय सिंह, जयसिंह अग्रवाल को सदस्य बनाया है।
इसके अलावा राज्य सभा सदस्य छाया वर्मा, वरिष्ठ विधायक धनेंद्र साहू, सत्यनारायण शर्मा, चिंतामणि महाराज, अमितेश शुक्ल, रामपुकार सिंह, मनोज मंडावी, अस्र्ण वोरा, अमरजीत भगत, लखेश्वर बघेल भी सदस्य हैं। वरिष्ठ नेताओं में राजेंद्र तिवारी, पुष्पादेवी सिंह, देवती कर्मा, कस्र्णा शुक्ला, महंत रामसुंदर दास, गंगा पोटाई, कृष्ण कुमार यादव, धनेश पाटिला, पीआर खूंटे, अमृत नेताम, डॉ. किरणमयी नायक, अस्र्ण भद्रा व इदरीश गांधी भी सदस्य बनाए गए हैं। सतनामी समाज के गुस्र् बाल दास को अभियान समिति में रखा है।

प्रदेश समन्वय समिति में 20 सदस्य बनाए गए हैं, जिसमें प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया, प्रदेश प्रभारी सचिव डॉ. चंदन यादव, अस्र्ण् उरांव, मोतीलाल वोरा, भूपेश बघेल, टीएस सिंहदेव, ताम्रध्वज साहू, अरविंद नेताम, छाया वर्मा, धनेंद्र साहू, रविंद्र चौबे, सत्यनारायण शर्मा, गंगा पोटाई, मोहम्मद अकबर, देवती कर्मा, डॉ. शिवकुमार डहरिया, पुष्पा देवी सिंह, अमितेश शुक्ल, कमला मनहर और राजेंद्र तिवारी शामिल हैं।

मीडिया समन्वय समिति में संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी, मुख्य प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला, संचार विभाग के पूर्व अध्यक्ष ज्ञानेश शर्मा, आरपी सिंह, डॉ. किरणमयी नायक, धनंजय सिंह ठाकुर, मोहम्मद असलम, घनश्याम राजू तिवारी, सुमित दास, अमित यदु, विकास दुबे, अभय नारायण राय, आलोक दुबे, जेपी श्रीवास्तव, पीयूष कोसरे, जितेंद्र साहू, कमलजीत पींटू, सुरेंद्र वर्मा, आइटी सेल के अध्यक्ष जयवर्धन बिस्सा, मोहम्मद इकबाल, विकास तिवारी, विकास बजाज के अलावा डीपीसी पद से इस्तीफा देकर राजनीति में आने वाले विभोर सिंह को रखा गया है।

चुनाव प्रचार का जिम्मा पार्टी के प्रदेश कोषाध्यक्ष रामगोपाल अग्रवाल, मंत्री मोहम्मद अकबर व जयसिंह अग्रवाल, सत्यनारायण शर्मा, पारस चोपड़ा, शंकर अग्रवाल, रायपुर के महापौर प्रमोद दुबे, विधायक व भिलाई के महापौर देवेंद्र यादव, जगदलपुर के महापौर जतिन जायसवाल, अंबिकापुर के महापौर डॉ. अजय तिर्की, अस्र्ण सिंघानिया, सलाम रिजवी, अस्र्ण भद्रा और इदरीश गांधी को दिया गया है।

Tags
Show More

Related Articles

Close